हनुमान  चलिसा  के ये  दो लाइन  हाप के  जीवन  को मंगल माये बन  देंगी !!

हनुमान चलिसा के ये दो लाइन हाप के जीवन को मंगल माये बन देंगी !!

, Writer

मंगल के जन्मे मैंगल ही करते मंगल माये हनुमान जय हनुमान जय हनुमान :-

रामायण  करे  बारे  में अगर बात करे   तो  ये   सब  महकय्वे  के  रूप में लोगो को गिना जाता   है |  हिन्दू धर्म में रामायण के लोग पवेत्र मानते है और आज भी लोग सुन्दर कांड का पथ पूरी आस्था के साथ  किया जाता    है | सुन्दर कांड में हनुमान जी के सीता हनुमान संबाद 
१)लंका दहन 
२)श्री हनुमान संबाद 
३)हनुमान प्रस्थान 
  मन जाता  है की सुन्दर कांड का पथ करने से इन्सान  के   दूर होते है  उसकी मनो कमान  पूरी हो जाती है |

मंगल बार  के दिन हनिमान  जी को  समर्पित है एडी मंगल बार के दिन सुन्दत कांड का  पाठ किया जाये तो ये अधिक लाभ दायक  होता है  था  मंगल बार  के दिन हनुमान  जी का वर्त  रखने से  इन्सान की  कुंडली का  मंगल दोस  भी समाप्त  हो जाता  है   मंगल बार को  बही ही  सुभ दिन मन  जाता  है | 
एडी इन्सान मंगल बार  और सनिवार  को इन उपायों को करता है  तो  उसे अति शीग्र सफलता प्राप्त होता है |

ज्ञान में  वृद्धि के  लिए -

बुध्हीन तनु जाने के सुमिरे पवन कुमार

बल भुधि विद्या देहु मोहि  हरहु कलेश विकाश .

यदि किसी  इन्सान   पर   कोई मुकदमा   चल  रहा   है   तो   उसमे विजय प्राप्त के लिए -

पवन  तनय बल  पवन सामना .

बुधि विवेक विग्यान  विधना.

आपकी  सभी  बढाओ को दूर करने  के  लिए -

हनुमान अंगद रन गाजे  हांक.

सुनत रजनीचर भाजे.

सदी में  बाधा को दूर करने के लिए -

मास दिवस महूँ   नाथू न भावा .

तो पुनि मोहि  जिअत नहीं  पावा .
 

ये मंत्र को जब   करने  से  साडी  दुःख दूर    हो  जाते है ..
 

 

 


Comments / Answer

Leave a comment & ask question